images
18/07/2020 द्वारा shiv3376 0

योग के लाभ

 

योग-के-लाभ

योग के लाभ

 

योग के लाभ

 

योग के लाभ:-  जैसा की हम जानते  योग करना हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना लाभकारी  है।  यह एक प्राचीनतम भारतीय जीवन शैली है ।और पूरी दुनिया में लोग इस  को अपनाकर अपने अनेकों रोग दूर करने के साथ-साथ अपने तन और मन को भी स्वस्थ रख रहे हैं।

योग के लाभ

 योगा में ऐसी शक्तियां हैं। जो आपके शरीर को तो स्वस्थ रखता ही है। साथ ही आपके मन को भी शांत रखती  है। जबकि आप किसी जिम में जाते हैं तो आप शारीरिक मेहनत करके शरीर को तो स्वस्थ कर सकते हैं।

 

जाने  योग के लाभ क्या है Benefits of yoga

 

  • योग को किसी जाति धर्म या समुदाय से जोड़ना गलत है।  यह  एक जीवन जीने की कला है जो आपके तन और मन को निर्मल करती है। 
  • योग से आप अपने शरीर में संपूर्ण ब्रह्मांड की शक्ति को महसूस कर सकते हैं। इसका नियमित अभ्यास आपके शरीर और मन को  स्वस्थ बनाए रखता है।
  • इस   के आगे चिकित्सा विज्ञान भी बौना नजर आता है।  इसकी शक्तियों से भारत ही नहीं  अन्य देशों में भी ऐसी ऐसी बीमारियों का इलाज हो रहा है जिसका इलाज चिकित्सा विज्ञान में संभव नहीं है।

रक्त संचार दुरुस्त करता है।

 
योग   आपके शरीर के रक्त संचार को नियमित रूप से दुरुस्त करता है। क्योंकि ब्लड संचार गलत होने से शरीर के सारे अंदरूनी अंगों पर बुरा असर पड़ता है।
 
 
 
जैसे कि हार्ट की प्रॉब्लम किडनी में दिक्कत और लीवर भी खराब होने की संभावना होती है। नियमित योगा करने से इन सारी समस्याओं से बचा जा सकता है।
 

रक्तचाप को संतुलित करता है।

  रक्तचाप घटने बढ़ने की समस्या बहुत देखी जा रही है। यदि आप को  भी रक्तचाप की समस्या है।

तो तत्काल किसी प्रशिक्षित की सलाह से इस  के लाभ लेना शुरू करें यह आपका रक्तचाप दुरुस्त कर देगा एवं रक्तचाप के कारण होने वाली भयानक बीमारियों से भी आप को बचाएगा ।

श्वसन प्रणाली बेहतर बनाता है।

यदि आप के श्वसन  प्रणाली में कोई छोटा सा भी बिकार  आ जाए तो समझ लीजिए कि आपको कोई बड़ी समस्या होने वाली है। क्योंकि श्वसन प्रणाली का छोटा सा भी बिकार  एक बड़ी समस्या खड़ी कर सकता है ।

योगा से आप अपनी श्वसन प्रणाली को दुरुस्त कर सकते हैं।

   योगा का हर एक आसन श्वसन प्रणाली को दुरुस्त करने के लिए  होता है।एवं योगा करते समय फेफड़े अपनी पूरी कार्य क्षमता से कार्य करते हैं। जिससे शासन प्रणाली का विकार  खत्म होता है।

अपच और कब्ज को खत्म करता है।

 नियमित अभ्यास से आप का पाचन तंत्र मजबूत होता है।  एवं कब्ज को पूरी तरह से नष्ट करता है।  जिससे कि हम जो कुछ भी खाते हैं वह पूरी तरह से हजम होता है एवं पेट साफ होने में भी कोई दिक्कत नहीं होती

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है ।

संपूर्ण विश्व में इतना प्रदूषण हो गया है कि पता नहीं कितने प्रकार की बीमारियां सर उठा रही है ऐसे समय में हमें अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखना बहुत जरूरी है।

  योगाभ्यास करने वालों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत अधिक होती है उनके ऊपर वायरस या अन्य बीमारियों का कोई असर नहीं होता

अच्छी नींद के लिए मदद करता है

 सूर्य नमस्कार  12 आसनों से मिलकर बना होता है ।यदि आप नियमित रूप से सूर्य नमस्कार करते हैं।

तो आपको अनिद्रा की शिकायत कभी नहीं होगी। आप दिनभर कुछ भी करें रात को आप को भलीभांति नींद आ जाएगी। और अनिद्रा की समस्या खत्म हो जाएगी।

हृदय रोग से बचाता है

योगा से आप अपना बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल आसानी से कम कर सकते हैं। क्योंकि बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल हृदयाघात का मुख्य कारण होता है। यदि आपका कोलेस्ट्रोल कम होगा तो हृदयाघात होने की संभावना नहीं होती ।योगा आप का ह्रदय ही मजबूत करता है।

अस्थमा से बचाता है

जैसा कि हम जानते हैं कि योगा के बहुत सारे ऐसे आसन है जो स्वसन तंत्र को मजबूत करते हैं।  यदि आपका स्वसन तंत्र मजबूत होगा तो अस्थमा  रोक आपके आसपास भी नहीं भटकेगा यह आपके फेफड़ों की कार्य क्षमता को बढ़ाता है ।

 अस्थमा फेफड़ों की कमजोरी की वजह से होती है जब आप के फेफड़े मजबूत होंगे तो आपको अस्थमा रोग नहीं होगा 

 

कमर दर्द से राहत दिलाता है  

योगा में ऐसे गुण होते हैं जो कि आपके पूरे शरीर की हड्डियों और मांसपेशियों को लचीला बनाता है।  अधिकतर लोगों की रीढ़ की हड्डी की वजह से कमर दर्द होना शुरू हो जाता है।

यदि आप योगा को अपनाते हैं तो आप की रीढ़ की हड्डी लचीली बनी रहेगी जिससे कमर दर्द होने के कारण खत्म हो जाते हैं और।  कैसा भी कमर दर्द हो उसमें बहुत जल्दी आराम आना शुरू हो जाता है।

चिंता और तनाव से मुक्ति दिलाता है

 मन शांत रहता है। और आपके शरीर और मस्तिष्क में  सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। जिस से अनिद्रा और मानसिक तनाब से छुटकारा मिलता है 

याददाश्त को तेज करता है

 विद्यार्थियों के लिए याददाश्त का तेज होना बहुत ही जरूरी है इस में  ऐसे गुण  होते हैं जो कि मनुष्य  की याददाश्त की क्षमता को कई गुना बढ़ा देता है।

 योगाभ्यास करने से आप अपने मन पर काबू पा सकते हैं।  और अपनी याददाश्त की क्षमता को भी बढ़ा सकते हैं

योग के लाभ

योग के लाभ के कुछ नियम और सबधानियाँ  भी होते हैं

  •  जैसे योगा या तो सूर्योदय से पहले या फिर सूर्यास्त के बाद करना अति उत्तम होता है दोपहर के समय इसके  के लाभ कम होते हैं।
  • योगासन करने से पहले आपको हल्का-फुल्का व्यायाम करना अति आवश्यक होता है जिससे आपका शरीर खुल जाता है और आपको योगा करने में मदद मिलती है।
  • योगा के तुरंत बाद ना तो पानी पिए और ना तुरंत नहाएं  इससे शरीर को हानि हो सकती है ३० मिनट का गेप देकर नहा सकते हैं ।
  •  अगर आप किसी बीमारी से ग्रस्त हैं या फिर गर्भवती हैं तो योगा करने से पहले आप किसी अच्छे सलाहकार से सलाह लें अन्यथा योगासन ना करें।

जबकि आप किसी जिम में जाते हैं तो आप शारीरिक मेहनत करके शरीर को तो स्वस्थ कर सकते हैं परंतु मन को नहीं मात्र योगा में ऐसी शक्ति है जो आपके तन और मन दोनों पर प्रभाव करती है

जाने  योग के लाभ क्या है Benefits of yoga

 

  • योग एक तरह की कसरत हे जो की शारीर के अंदरूनी अंगो को स्वस्थ करने के साथ साथ शारीर को बहार से भी मजबूत और सुधोल बनती है 
  • रोजाना योगा करने बाले जल्दी बीमार नहीं पड़ते हैं उनकी रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ी रहती है 
  • अन्य देशों में भी ऐसी ऐसी बीमारियों का इलाज हो रहा है जिसका इलाज चिकित्सा विज्ञान में संभव नहीं है

योग के लाभ