खाने के फायदे

सौंफ खाने के फायदे

सौंफ-खाने-के-फायदे
सौंफ खाने के फायदे

सौंफ खाने के फायदे यह पाचन की शक्ति बढ़ाने की एक प्राकृतिक औषधि मानी गई है। यह आपके द्वारा किये गए भोजन को जल्द से जल्द पचाने में मदद करती है। इसकी और भी कई खूबियां है

आपने देखा होगा अधिकतर होटल और रेस्तरां में खाना खाने के बाद सौंफ दी जाती है। यह ऐसे ही नहीं होता इसका कारण यह होता है। कि सौंफ भारी भोजन को जल्द से जल्द पचाने में मदद करती है

सौंफ खाने के फायदे

सौंफ के कई फायदे होते हैं। जैसे :-

  • पेट की समस्या को दूर करती है ।
  • मुंह की दुर्गंध को भी ख़त्म करती है।
  • पेट में गैस नहीं बनने देती।
  • बजन बढ़ने से रोकती है।
  • आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार

पेट की समस्या को दूर करती है

यह आपके पेट दर्द पेट की सूजन कब्ज और लूज मोशन आदि में कारगर औषधि है। यह पेट की कई समस्याओं से छुटकारा दिलाने में मददगार होती है। यदि आप भोजन के उपरांत इसका सेवन करते हैं। तो आपको अपच की शिकायत कभी नहीं होगी।

मुंह की दुर्गंध को भी ख़त्म करती है।

सौंफ माउथ फ्रेशनर का भी काम करती है। यह मुंह की दुर्गंध को रोकती है। आपने देखा होगा कुछ लोगों के मुंह से बहुत दुर्गंध आती है। जो दूर खड़े व्यक्ति को भी महसूस होती है। ऐसे व्यक्ति प्रतिदिन एक या दो चम्मच सौंफ का इस्तेमाल करें

पेट की गेस को रोकती है .

पाचन की शक्ति दुरुस्त करने के साथ-साथ बदहजमी की वजह से पेट में बनने वाली गैस पर अंकुश लगाती है। यदि आपका हाजमा ठीक रहेगा तो पेट में गैस बनने के कारण नहीं होंगे। सौंफ हाजमा दुरुस्त करती है। और इसी कारण पेट में गैस नहीं बनती है।

यह बजन बढ़ने से रोकती है।

सौंफ बजन बढ़ने से रोकती है। यह शरीर की अतिरिक्त बसा को भी पिघलाने में मदद करती है। यदि आप प्रतिदिन खाली पेट एक कप गर्म पानी में एक चम्मच सौंफ उबालकर पीते हैं। तो यह ग्रीन टी का कार्य करती है। जो कि आपके शरीर में एंटी ऑक्सीडेंट का कार्य करती है। जो की मोटापे पर रोक लगाती है

यह आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार

आंखों की रोशनी बढ़ाने की भी औषधि है। यदि आप की आंखों में खुजली जलन या लालिमा रहती है। तो आप सौंफ के पानी की भाप ले सकते हैं। इससे आपकी आंखों में लाभ होगा। आंखों की रोशनी भी तेज होगी ।

यदि आप भाप लेने में असमर्थ हैं। तो हल्के गर्म पानी में सौंफ को भिगो दें। और एक कपड़े में लपेटकर उससे आंखों की सिकाई कर सकते हैं। जिससे आपकी आंखों की खुजली और जलन जल्द से जल्द ठीक हो सकती है।

सोंफ मुंह के छालों को रोकती है


अगर आपके मुंह में बार-बार छाले की समस्या उत्पन्न होती है। तो आप सुबह खाली पेट सौंफ का पानी पिए। आपको करना यह है. रात में एक चम्मच सौंफ को एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें और सुबह छानकर पी लें। इससे आपके मुंह में बार-बार होने वाले छालों की समस्या से निजात मिल जाएगी

क्यूंकि मुंह के छालो की समस्या का मुख्य कारण पेट की गर्मी होती है .और सोंफ पेट की गर्मी को ख़त्म करने की एक अचूक ओषधि है .सोफ़ अपने आप में बहुत ही ठंडी होती है .इसीलिए सर्दी जुखाम में सोंफ का इस्तमाल न करने की सलाह दी जाती है .

मुंह के छालो के लिए बिटामिन बी काम्प्लेक्स भी एक उत्तम ओषधि है .क्यूंकि बिटामिन बी काम्प्लेक्स के कारण भी मुंह के छालो की समस्या उभर कर सामने आती है

आयुर्वेद के अनुसार

आयुर्वेद में सोंफ को एक औषधि की संज्ञा दी है. सोंफ सोंफ कई तरह की बीमारियों के लिए अचूक ओषधि है .एवं कई ऐसी बिमारिय भी हैं .जिन में सोंफ अन्य कई ओषधियो में मिलाकर एक ओषधि बनाई जाती है

कुछ लोग सोंफ के पानी से पेट की पथरी का इलाज करते हैं .बही कुछ लोग सोंफ का इस्तमाल पेट की गर्मी के लिए .

सोंफ के पानी का इस्तमाल कई तरह से बालो को चमकदार बनाने के लिए भी किये जाता है .और सोंफ के पेस्ट से भी बालो में चमक आती है .इसका इस्तमाल बहुत ही आसन होता है .दो चम्मच सोंफ को पानी में भिगो दें और कमसे कम तीन या चार घंटे भीगी रहने दें .उसके बाद उसे पीस लें और हलके हाँथ से बालो की मालिश करें उसके बाद बालो को सादा पानी से धो दें .इससे बालो में चमक आती है .

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *