join pain oil
05/08/2020 By shiv3376 0

jodo ke dard ka tel kese banaye

jodo-ke-dard-ka-tel-kese-banaye

jodo-ke-dard-ka-tel-kese-banaye

jodo ke dard ka tel kese banaye

How To Make Joint Pain Oil जॉइंट पेन आयल –

जब हमें कंही दर्द होता है। तब हम बाजार जाते हैं और तरह तरह की दर्द नाशक क्रीम दर्द नाशक टेबलेट और पता नही कितने तरह है jodo ke dard ka tel ले आते हैं और मालिश करने में लग जाते है ।इन चीजों से आपके दर्द में राहत मिले इसका कोई पता नही होता। लेकिन आपकी जेब अच्छे से ढीली हो जाती है।
कुछ तेल बाजार में उपलब्ध हैं। जो दर्द में आराम करते है लेकिन परमानेंट नही कुछ समय के बाद फिर से दर्द होने लगता है।और बाजारू तेल और क्रीम बहुत मंहगे भी होती हैं ।दोस्तो हम आपको कुछ बताएंगे जिससे आप अपने घर पर। ही अच्छी कवालिटी का jodo ke dard ka tel kese banaye ये तेल jodo ke dard में तो आराम करेगा ही बल्कि मसल्स पेन में भी बहुत आराम करेगा।

सामिग्री Material

तेल बनाने के लिए आपको कुछ जड़ी बूटियों की आवश्यकता पड़ेगी। लेकिन हम आपको बता दें की आपको जिन जड़ी बूटियों की आवश्यकता पड़ेगी वह सब आपके घर में ही उपलब्ध होंगी। आपको उन्हें बाजार में ढूंढने नहीं जाना पड़ेगा। और इस तेल को बनाना भी बहुत आसान है। आप इसे घर पर ही आसानी से बना सकते हैं। तो जानिए बे जड़ी बूटी क्या क्या है।

  1. जैतून का तेल 50 ml
  2. सरसों का तेल 50 ml
  3. लहसुन 15 कली
  4. अजवायन 2 टेबलस्पून
  5. मेंथी दान 2 टेबलस्पून

बनाने की बिधि Recipe

सबसे पहले जैतून और सरसों के तेल को मिला लें और धीमी आंच पर रख दे . उस के बाद लहसुन की कलियां कुचल कर तेल में डाल दे और फिर अजवाइन और मेथी दाना भी दाल दें
ध्यान रखे कि आँच एकदम हल्की होनी चाहिए।अब इस तेल को तब तक पकाएँ जब तक सब काला पड़ जाए।उस के बाद इसे उतार लें और ठंडा होने के बाद छान कर किसी कांच की सीसी में भर के रख लें


लगाने का तरीका Method of application

  • अगर आप को साधारण दर्द है तो आप इस तेल से मालिश करें
  • अगर मोच का दर्द है तो पहले ठंडे पानी या बर्फ से धो लें उसके 30 मिनट के बाद तेल से 5 मिनट मालिश करें।और मालिश के बाद कम से कम 1 घंटे मोच बाली जगह हबा न लगने दे किसी कपड़े या गर्म पट्टी से बांध के रखे
  • मसल्स पेन में भी आप साधारण मसाज कर सकते हैं

साबधानी Attentiveness

जोड़ों के मामले में कुछ सावधानियां बरतनी अति आवश्यक होती है। और आप जोड़ों की समस्या को नजरअंदाज बिल्कुल नहीं कर सकते जोड़ों के दर्द पर यदि शुरुआत में ही ध्यान ना दिया जाए तो। यह छोटी समस्या बड़ी समस्या का रूप ले सकती है। इसलिए यह सावधानियां बरतें और इनको नजर अंदाज बिल्कुल ना करें

  • अगर आपके join खराब हो रहे हैं
  • आपके जोड़ो में सूजन ज्यादा है
  • या आप दर्द के कारण रोज मर्रा के काम नही कर पा रहे
  • तो तत्काल अपने डॉक्टर से संपर्क करे

मालिश. करने का सही तरीका . The right way to massage

  • आप जब भी दर्द बाली जगह पर मालिस करे तो तेल की मात्रा थोड़ी ज्यादा ले ।क्योंकि मालिस का उद्देश्य होता है तेल को अंदर तक पहुचाना न की खाल में लगाना।
  • आप जब भी इस तेल से मालिश करते हैं तो उसके तुरंत बाद ना नहाए कम से कम 1 घंटे का गैप देकर नहाए से आपको तेल की मालिश का पूरा लाभ मिलेगा
  • यदि आप पैर में मोच आ जाने के कारण तेल से मालिश करते हैं तो मालिश के बाद २ घंटे तक पैर को हवा न लगने दें इससे आपको आराम मिलेगा
  • यदि आपको कहीं मसल्स पेन है। और आप इस तेल से उसकी मालिश करते हैं तो उसके बाद आप गर्म पानी से सिकाई कर सकते हैं। इससे आपको बहुत जल्दी लाभ मिलेगा

जोड़ो के दर्द का अयुर्बेदिक उपचार

जोड़ो के दर्द के लिए मालिश के साथ साथ कुछ आयुर्वेदिक उपचार भी करने होंगे जो आपके जोड़ो का दर्द अन्दर से ख़त्म करेगा

लहसुन और दूध

एक गिलास में ३-४ कलियाँ लहसुन की कुचल कर डाल लें और दूध को उबाल लें ध्यान रखें इसमें चीनी न डालें इससे आपका सुगर बढ़ सकता है और यह जोड़ो के दर्द कारण बन सकता है

अब आपने जो लहसुन का दूध तैयार किया है उसको रात के भोजन के बाद पीना है हल्का गर्म एसा आप अपने नियमित आहार में शामिल कर सकते हैं यह दूध आपको कैल्सिंम देता है और लहसुन के साथ मिलकर यह जोड़ो के दर्द की औषधि बन जाती है

सफेद मूसली चूर्ण

सफेद मूसली का चूर्ण आपके शरीर में हड्डियों एवं मांसपेशियों के दर्द को दूर करने की शक्ति रखता है यदि आपके जोड़ों में दर्द अत्यधिक रह रहा है

तो आप एक चम्मच सफेद मूसली का चूर्ण एक गिलास हल्के गर्म दूध में मिलाकर रात के भोजन के बाद पीए इसको आप नियमित रूप से 1 महीने तक पिए इसके पीने से आपको 2 से 3 दिनों में आराम मिलना शुरू हो जाएगा

सफेद मूसली शरीर की अंदरूनी कमजोरी को दूर करके स्वस्थ एवं ताकतवर बनाता है

गरम पानी और शहद

आपको पुराने समय से जोड़ों में दर्द रह रहा है एवं आप का बजन अधिक है तो आपको गर्म पानी में शहद पीना चाहिए इससे आपका वजन कम होगा और दर्द में भी राहत मिलेगी

शहद में भरपूर मात्रा में विटामिन E पाया जाता है और जोड़ों का दर्द कम करने के लिए विटामिन E बहुत महत्वपूर्ण होता है करना क्या है

सुबह खाली पेट एक गिलास गर्म पानी में दो से तीन चम्मच शहद मिला ले और पी ले ऐसा नियमित रूप से करते रहें इससे आपका बड़ा हुआ वजन कम हो जाएगा

विटामिन सी

जोड़ों के दर्द के लिए विटामिन सी कारगर औषधि है यदि आपको अपने जोड़ों का दर्द ठीक करना है तो विटामिन सी से भरपूर फलों का सेवन करें जैसे नींबू संतरा पपीता आदि इससे आपके शरीर में विटामिन सी की कमी पूरी हो जाएगी और जोड़ों के दर्द में भी राहत मिल जाएगी

हरी सब्जियों का सेवन करें

दोस्तों हरी सब्जी के फायदे तो हम सभी लोग जानते हैं फिर भी हम आपको एक बार बता दें कि हरी सब्जियों में भरपूर मात्रा में आयरन एवं फाइबर और विटामिन पाए जाते हैं

जो हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाते हैं साथ ही शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मददगार होते हैं कभी-कभी रक्त की कमी से भी जोड़ों में दर्द रहने लगता है

हरी सब्जियां खाने से रक्त की कमी दूर होती है इसलिए प्रतिदिन हरी सब्जियों का सेवन करें हो सके तो सलाद के रूप में कच्ची सब्जियों का सेवन करें इससे रक्त की कमी दूर हो जाएगी और जोड़ों का दर्द कम हो जाएगा