susya namaskar ke fayde

susya namaskar ke fayde

susya namaskar ke fayde

susya namaskar ke fayde

सूर्यनमस्कार को 12 योग आसनों से मिला कर बनाया गया है इस आसन का अपना अलग ही महत्व है इससे करने वाले लोग हमेंसा स्वस्थ रहते हैं। साथ ही उनके शरीर मैं खून का संचार सही तरीके से होता है। एवं सूर्य नमस्कार करने से शरीर डिटॉक्स होता है।

susya namaskar ke fayde

सूर्य नमस्कार के नियमित अभ्यास से मांसपेशियां एवं हड्डियां लचीली बनी रहती है। जिसमें सबसे ज्यादा रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाने का योगदान होता है।

दोस्तों हम आपको बता दें सूर्य नमस्कार आप एकांत में जाकर केवल अपने हाथ पैरों से ही कर सकते हैं। सूर्य नमस्कार का सबसे ज्यादा लाभ सुबह के समय करने से होता है। सूर्य नमस्कार से मन भी शांत रहता है एवं शरीर लचीला बना रहता है और सूर्य नमस्कार के अनेकों फायदे हैं जो हम आपको इस लेख में बताएंगे

शरीर को लचीला बनाता है :-

दोस्तों यदि आपके शरीर जकड़न रहती है. तो आपके लिए सूर्य नमस्कार बहुत ही कारगर साबित हो सकता है. सूर्य नमस्कार करने से शरीर एकदम लचीला बना रहता है. एवं यदि सूर्य नमस्कार तेजी से किया जाए तो सबसे महत्वपूर्ण व्यायाम सावित होता है. शरीर को लचीला बनाने में सूर्य नमस्कार का विशेष महत्व होता है

पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है

सूर्य नमस्कार का नियमित अभ्यास करने से आप का पाचन तंत्र एकदम दुरुस्त रहेगा। इससे आप को भोजन बचाने में कोई भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। एवं सुबह नित्य क्रिया के समय पेट भी ठीक से साफ होगा इससे आपका पेट हल्का बना रहेगा। एवं तेजाबियत एवं गैस की कोई समस्या नहीं होगी

वजन कम करने में सहायक

सूर्य नमस्कार एक ऐसा व्यायाम है जो आपके शरीर के प्रत्येक अंग पर असर करता है। और शरीर की चर्बी को भी पिघलाने में मदद करता है। यदि आपके शरीर पर अधिक चर्बी है या आप मोटापे की तरफ बढ़ रहे हैं तो तत्काल सूर्य नमस्कार प्रारंभ कर दें। यह आपके मोटापे को बढ़ने से रोकेगा यदि आप पहले से मोटे हो चुके हैं तो आपका मोटापा भी कम करेगा।

हड्डियों को मजबूत करता है

विद्वानों ने कहा है कि सूर्य नमस्कार सुबह के समय किया जाए तो बहुत उपयोगी होता है। उसका वैज्ञानिक कारण होता है सुबह के समय सूर्य का प्रकाश शरीर को विटामिन डी से भर देता है। और विटामिन डी हड्डियों को मजबूत करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सुबह की धूप में व्यायाम करने से आपके शरीर में विटामिन डी की पूर्ति होती है और शरीर से जहरीले पदार्थ पसीने के रूप में बाहर निकल जाते हैं

कब्ज दूर करता है

सूर्य नमस्कार करने से आप का पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। दूसरा सुबह के समय पेट बहुत आसानी से साफ होता है। क्योंकि यह कब्ज को नष्ट करता है यदि किसी को बवासीर की बीमारी हो तो यह उसको भी ठीक कर देता है क्योंकि इसमें आगे की तरफ झुकने से पेट की कब्ज खत्म होती है और पाचन तंत्र मजबूत होता है

त्वचा को खूबसूरत बनाता है

दोस्तों जैसा कि हमने बताया था कि नमस्कार सुबह के समय करने से ज्यादा फायदा होता है उसका मुख्य कारण यह है कि शरीर में विटामिन डी भरपूर मात्रा में मिलता है। दूसरा शरीर में रक्त संचार सही प्रकार से होता है इससे आपकी त्वचा में निखार आता है एवं चेहरे पर चमक आती है चेहरे की झुर्रियां खत्म होती है। एवं बढ़ती उम्र में हड्डियां मजबूत रहती है

कौन लोग ना करें सूर्य नमस्कार

  • गर्भवती महिलाएं सूर्य नमस्कार ना करें
  • हर्निया के मरीज सूर्य नमस्कार ना करें इससे उन्हें परेशानी बढ़ सकती है
  • जिनका ब्लड प्रेशर हाई रहता है बे अपने डॉक्टर से परामर्श ले
  • जिनकी रीड की हड्डी में परेशानी है जैसे स्लिप डिस्क की प्रॉब्लम है बे सूर्य नमस्कार ना करें

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *